कोविड को ध्‍यान में रखकर 27 दिसंबर को सादगी से मनाया जायेगा आनंद दिवस

राष्ट्रीय स्‍तर के ख्याति प्राप्त समाजसेवी सह निर्माता – निर्देशक डॉ.अरविंद आनंद के 41 वें जन्म दिवस अवसर पर आगामी 27 दिसंबर 2020 के को सादगी से आनंद दिवस मनाया जायेगा। इसकी जानकारी आज खुद डॉ. अरविंद आनंद ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर दी। उन्‍होंने यह फैसला वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण को लेकर लिया। हर बार की तरह इस बार भी आनंद दिवस पर केक काटने और कैंडिल जलाने की प्रथा से उन्‍होंने अपने समर्थकों से दूरी बनाने की अपील की।

कोविड को ध्‍यान में रखकर 27 दिसंबर को सादगी से मनाया जायेगा आनंद दिवस

इससे पहले आनंद ने 27 दिंसबर 2020 के कार्यक्रम के बारे में विस्‍तार से बताया। उन्‍होंने बताया कि 27 तारीख को सुबह 11 बजे सीवान के ऐतिहासिक बाबा महेंद्रानाथ मंदिर में वे अपने परिजनों, शुभचिंतकों और ईष्‍ट मित्रों के साथ पूजा अर्चना होगा। उसके बाद कमल दाह सरोवर परिक्रमा का भी आयोजन है।

डॉ आनंद दोपहर 12:30 बजे (दिन) रामगढ (मेहंदार के नजदीक, सिसवन, सिवान

डॉ आनंद दोपहर 12:30 बजे (दिन) रामगढ (मेहंदार के नजदीक, सिसवन, सिवान) दलित बस्ती के बच्चों के बीच चरित्र निर्माण शिविर/मिठाई /कलम/कॉपी वितरण व बाल भोज करेंगे। उसके बाद दोपहर 2:30 बजे (दिन) रामपुर (सिसवन, सिवान) दलित बच्चों के बीच चरित्र निर्माण शिविर/मिठाई/कलम/कॉपी का भी वितरण करेंगे। 6 बजे (शाम) से आनंद भोज,लिट्टी चोखा हूसेना बंगरा,सिसवन, सिवान, आशीष सिंह कंचन के यहाँ, शुभचिंतको व सहयोगियों के साथ किया जायेगा। डॉ अरविंद ने कहा की जन्म दिन पर फिजूल खर्ची पार्टी से बचना चाहिए और हो सके तो दीन दुखियों के चेहरे पर खुशी लाने का प्रयास करना चाहिए और समाज इंसानियत प्रेम भाईचारे को फैलाने का प्रयास करना चाहिए, बता दे की अभी तक लाखो बच्चो से मिलकर उन्हे चरित्रवान बनाने का पहल कर चुके है, और भविष्य मे इसे जारी रखने हेतु वचनवद्ध हैं, साथ साथ सामाजिक गतिविधियों को संचालित करने मे तत्परता बनाये रखेंगे…

Language »