निधन- राम विलास पासवान नहीं रहे। बेहद दुखद ख़बर। पासवान बात व्यवहार में सज्जन नेता थे।

 निधन- राम विलास पासवान नहीं रहे। बेहद दुखद ख़बर। पासवान बात व्यवहार में सज्जन नेता थे।

राम विलास पासवान नहीं रहे। बेहद दुखद ख़बर है। पासवान बात व्यवहार में सज्जन नेता थे।प्रेस की आलोचनाओं और अनदेखियों के बीच सहज रहे और कभी किसी को घर से भगाया नहीं। उनकी राजनीति एक व्यक्ति की रही मगर उन्हें बड़ी भूमिका निभाने का मौक़ा नहीं मिला। पासवान जिस सामाजिक पृष्ठभूमि से आए थे वहाँ उनके लिए किसी तरह का सपोर्ट नहीं था। लेकिन चलते चले गए और अपने आप को सत्ता और राजनीति के बीच बनाए रखा। यह भी बड़ी कामयाबी थी। कभी क्षेत्रीय राजनीति में प्रासंगिक होते होते रहे तो कभी राष्ट्रीय राजनीति में हमेशा प्रासंगिक रहे। अपने समय के बड़े नेताओं में से रहे। सबसे अधिक वोट से जीतने वाले सांसद भी हुए। पासवान को लेकर शिकायतें भी रहीं मगर राम विलास पासवान ने दिल में मलाल नहीं रखा। मेरी राय में पासवान और आगे जा सकते थे मगर परिस्थितियाँ उनसे आगे निकलती चली गईं। घर पर हो या फ़ोन पर उनसे बातचीत हमेशा मधुर रही। हम उनकी आत्मा की शांति की प्रार्थना करते हैं। ईश्वर चिराग़ पासवान को शक्ति दे। पिता जिस गाड़ी को खींच कर एक पीढ़ी आगे लाएँ हैं उसे और आगे ले जाएँ। किसी का प्यादा न बनें। यही पिता के प्रति सच्ची श्रद्धांजलि होगी। राम विलास पासवान की बातें याद आती रहेंगे। मने, एथी, कथी, का कहते हैं कि। उनका देसी अंदाज़ में बोलना याद आएगा। ख़बर सुन कर मन उदास हो गया है।

राम विलास पासवान अपने बेटे चिराग पासवान ke साथ

निधन: ‘रघुवंश प्रसाद सिंह’ देसी, खाँटी और अपने नेता के प्रति समर्पित नेता की कहानी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदीजी जी ने भावुक पोस्ट के माध्यम से श्रन्धांजलि दी

मोदीजी और पासवान जी

केंद्रीय मंत्री रविशंकर ने श्रंद्धाजंलि देते हुए लिखा –

राम विलास पासवान जी के निधन पर मेरी असीम संवेदना और श्रद्धांजलि। वे देश के समाजवादी आंदोलन के एक प्रखर नेता थे और उन्होंने अपना सारा जीवन दलितों और उपेक्षितों के कल्याण में लगाया। वे भारत सरकार में वरिष्ठ मंत्री रहे। मैं अटल जी की सरकार में पहली बार उन्हीं के साथ कोयला खान राज्य मंत्री था। उनका निधन देश के लिए अपूरणीय क्षति है। मेरी श्रद्धांजलि। ॐ शांति।

रविशंकर जी श्रंद्धाजलि देते हुए

समाजवादी युवा नेता सुनील सिंह ने पोस्ट डाल कर श्रन्धांजलि दी

सुनील सिंह समाजवादी पार्टी से विनम्र श्रंद्धाजलि देते हुए

वरिष्ठ भाजपा नेता एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री शानवाज हुसैन ने अपनी भावभीनी यांदो को पोस्ट के माध्यम से व्यक्त किया –

हमारे दिल के बेहद करीब, मित्र सरीखे बड़े भाई, लोक जनशक्ति पार्टी के संस्थापक, केंद्रीय मंत्री श्री रामविलास पासवान जी के निधन की खबर से अत्यंत आहत महसूस कर रहा हूं।
वो जीवन भर शोषित, वंचित समाज की आवाज बुलंद करते रहे। उनका जाना बिहार के साथ साथ पूरे देश के लिए अपूर्णीय क्षति है ।

शानवाज और रामबिलास एक साथ

माननीय रामविलास पासवान जी ऐसे नेता थे जो हर समाज के लोगों के लिए प्रिय और सम्मानित थे। उन्होंने पूरा जीवन समाज के उत्थान में लगाया और गरीब लोगों की बहुत फिक्र की। देश की राजनीति में उन्होंने कई आयाम जोड़ें हैं जो भविष्य में भी नीति निर्धारकों को प्रेरणा देते रहेंगे। दिल की गहराई से उन्हें सच्ची निष्ठा अर्पित। आपकी बहुत सी यादें दिल में हैं और हमेशा जिन्दा रहेंगी।

Manoj Tiwari ‘Mridul’

ये क्या हो गया.. अपनी मेहनत अपनी प्रतिभा अपने संघर्ष से बिहार के शोषित पीड़ित लोगों की आवाज़ बने,भारत सरकार के यशस्वी केंद्रीय मंत्री श्री #रामविलास_पासवान जी नहीं रहे.. हे ईश्वर,उनके परिवार व अनुयायियों को ये दुःख सहने की शक्ति दो..

मनोज तिवारी और रामविलास पासवान

कुमार विश्वास ने श्रन्धांजलि दी

बेहद दुखद ! निजी व सियासी दोनों तरह की ज़िंदगी के एक बेहद ज़रूरत भरे पड़ाव पर पिता का साया उठ जाने की यह पीड़ा सहने की ईश्वर चिराग़ पासवान व उनके परिवार को शक्ति दे ! लोकनायक जयप्रकाश की पुण्यतिथि के दिन अपनी अंतिम यात्रा को निकले उनकी क्रांति के इस सिपाही को ईश्वर अपने चरणों में स्थान दे 🙏🇮🇳
ॐ शान्ति ॐ

कुमार विश्वास ने श्रन्धांजलि दी

2.2K2.2K186 comments30 sharesLikeCommentShare

6K6K543 comments123 sharesLikeCommentShare

Related post

1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Language »