चीन की शाह पर अब पाक ने भारत को दिखाई आँख जम्मू-कश्मीर निवाशियो को लेकर सुनाया फैसला

इस्लामाबादः चीन की शह पर पाकिस्तान और नेपाल भारत को चौरतरफा घेरने की साजिशें रच रहे हैं। लद्दाख सीमा पर चीनी सैनिकों की झड़प के बाद भारत पर दबाव बढ़ाने के लिए पहले नेपाल ने भारतीय महिलाओं को नागरिता व फिर संसद में हिंदी को बैन करने का ऐेलान किया व अब चीन की शह पर ही पाकिस्तान ने भारत को आंखें दिखाते हुए कश्मीर को लेकर अपना फैसला सुनाया है। पाक और नेपाल की इन हरकतों ने साबित कर दिया है दोनों पड़ोसी देश चीन की कठपुतली बनकर अपने देश के हितों को ताक पर रख कर फैसले ले रहे हैं।

जम्मू-कश्मीर को लेकर पाकिस्तान अपनी भारत विरोधी साजिशों को अंजाम देने से बाज नहीं आ रहा है।

Up Board 134 के स्कूल ऐसे है जहा 10वी और 12वी सभी छात्र-छात्राए हुए फेल

 

पाक ने अब नई नापाक हरकत करते हुए भारत द्वारा अन्य राज्यों के लोगों को दिए गए जम्मू-कश्मीर के निवास प्रमाणपत्र को शनिवार को ”खारिज” कर दिया। नए निवास कानून के अनुसार, दूसरे राज्यों से आए ऐसे लोग निवास प्रमाणपत्र पाने के योग्य है, जिनके पास जम्मू-कश्मीर में रहने का कम से कम 15 साल का प्रमाण हो। नया कानून आने के बाद से करीब 30 हजार लोग केन्द्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर का निवास प्रमाणपत्र प्राप्त कर चुके हैं।

पाकिस्तान के विदेश विभाग ने भारत द्वारा अन्य राज्यों के लोगों को दिए गए निवास प्रमाणपत्र को ”खारिज ”कर दिया। विभाग ने कहा, ”जम्मू-कश्मीर निवास प्रमाणपत्र जारी करने (की प्रक्रिया), 2020 के तहत भारत सरकार के अधिकारियों सहित अन्य गैर-कश्मीरियों को जारी किए गए प्रमाणपत्र गैरकानूनी, अवैध, और अमान्य हैं, यह जिनेवा सम्मेलन सहित अंतरराष्ट्रीय कानूनों और संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के संबंधित प्रस्तावों का पूरी तरह से उल्लंघन है।” विदेश विभाग ने अंतरराष्ट्रीय समुदाय से कहा कि वह भारत को ”कश्मीर की जनसांख्यिकी स्वरूप में बदलाव करने” से रोके।

मुंबई में हुए सड़क हादसे में जौनपुर के पांच लोगो की मौत, कार से सूरत जाते समय टायर फटने से हुआ हादसा

कश्मीर पर रोना और दुष्प्रचार जारी

इसके पहले पाक के प्रधानमंत्री इमरान खान से लेकर विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी और अन्य मंत्री कश्मीर पर दुष्प्रचार करने से बाज नहीं आ रहे हैं। यह अलग बात है कि अधिकांश वैश्विक मंचों पर उन्हें नाकामी ही हाथ लगी है। कई देशों ने तो पाकिस्तान को दो टूक कह दिया है कि भारत के अंदरूनी मामलों में हस्तक्षेप ना ही किया जाए। इसके बावजूद हर मसले पर कश्मीर खासकर कश्मीरी मुसलमानों को लेकर पाकिस्तान का रोना जारी है।

उप प्रदेश का ये विधायक कोरोना वायरस संक्रमित

2 comments

Add your comment

Your email address will not be published.